ये तो बस 1 जिले का हाल है, महाराष्ट्र के हर जिले में कांग्रेस और NCP के ऐसे ही गरीब किसान है

0

किसानो के नाम पर हज़ारों करोड़ के लोन कांग्रेस और एनसीपी नेताओं ने लिए हुए है और सिर्फ नेताओं ने ही क्या, इनके दूर दूर तक के रिश्तेदारों ने खुद को गरीब किसान बताकर लोन लिए हुए है

महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार आये दिन ही कितने हुए है, इस से पहले एनसीपी और कांग्रेस की ही सरकारें रही जैसे माल्या को सारे लोन कांग्रेस ने दिए, अपने कार्यकर्ताओं और नेताओं को लोन दिलवाना कौन सी बड़ी चीज है, जब राज्य में आपकी ही सरकारें हो और जरा नजर डालिये महाराष्ट्र के सतारा जिले के कुछ अत्यंत गरीब किसानो पर

1) प्रभाकर घारगे ….92लाख
2) अनिल देसाई ..85लाख
3) आ.मकरंद पाटील …72लाख
4) संजीवराजे निंबाळकर …67लाख
5) शिवांजली राजे …48 लाख
6) हिंदूराव निंबाळकर …69लाख
7) लक्ष्मण पाटील …1cr 3 लाख

और इन 7 अत्यंत गरीब किसानो में से 6 एनसीपी के विधायक भी है और सिर्फ सतारा ही क्या एनसीपी और कांग्रेस के विधायक तो हर जिले में है और सिर्फ नेताओं का ही नहीं बल्कि इनके दूर दूर तक के रिश्तेदारों का लोन भी माफ़ करवाना है इसलिए चल रहा है महाराष्ट्र में ये कथित किसान आंदोलन

Loading...

Leave a Reply