ये उपाय आपको बुढ़ापे तक चश्मा नही लगने देगा, आँखो की सूजन से लेकर जलन, कम दिखाई देने तक में भी कारगर

0

कई बार सारा दिन आॅफिस में कम्‍प्‍यूटर स्‍क्रीन के सामने बैठने और फिर घर आकर टीवी या फोन में लगे रहने से आंखो को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचता है। और आजकल यह परेशानी सबसे ज्यादा 8 से 16 साल के बच्चों में देखने को मिल रही है स्मार्टफोन, गेम्स, टीवी पर लगे रहने के कारण बच्चों में तेजी से चश्मा चढने लगा है। ऐसे में हर कोई चाहता है कि किसी भी तरह से आंखो से यह चश्मा हट जाए और आपको खूबसूरत चेहरा और आंखे वापस पहले जैसी हो जाएं। तो आज हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स बताने जा रहें है जिन्हें अपनाने से आपकी भी सुंदर आंखो पर चश्मा नही चढ़ेगा…

आंखों पर मारें ठंडे पानी के छींटे

कई बार ज्यादा टीवी देखने, मोबाइल और कम्प्यूटर पर ज्यादा काम करते रहने से आंखो में जलन, कम दिखना और आंखो में जालें बनने जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप इन परेशानियों से बचना चाहते है तो आप अपने मुंह में पानी भरकर अपनी आंखों पर पानी की छींटे मारिए। ऐसा आपको दिन में करीब 25 से 50 बार कर सकते है। जिससे आपकी आंखो की ये परेशानी खत्म हो जाएगी। और इसके बाद डॉक्‍टर से चेकअप कराना बिल्‍कुल मत भूलें।

खीरें का रस

आंखों को फ्रेश रखने के लिए और उन्हें ठंडक देने के लिए आप अपनी आंखो को चश्में से बचा सकती है। इसके लिए आपको खीरें के रस की आवश्यकता होगी। खीरे के रस में रूई को भिगोकर उसे रात भर के लिए फ्रिज में रख दे। और दोपहर को सोते समय या आराम करते समय अपनी आंखों पर रख कर आराम करें ऐसा आप करीब 1 घंटे तक करें। इससे आंखो को आराम मिलेगा और आंखो की रोशनी भी बढ़ेगी। इसके साथ ही आप गुलाबजल से भीगे रुई के फोए को भी आंखों पर रख सकते है।

टी-बैग्‍स का करें इस्तेमाल

अगर आप सुबह आॅफिस जाने से पहले चाय में टी बैग का इस्तेमाल करते है तो आप अपनी चाय से टी-बैग्‍स को इस्तेमाल करने के बाद फैंके नहीं बल्कि उसे फ्रिज में रख दें। और फिर बापस शाम को घर आकर टी-बैग्‍स को निकालकर अपनी आंखो पर रखें। ऐसा करने से आपकी आंखो को आराम मिलेगा और सारें दिन की थकान और आंखो पर जमा सूजन में भी कमी आऐगी।

करें हरे पत्‍ते वाली सब्‍िजयां का उपयोग

हमेशा धूप में निकलने से पहले सन ग्‍लासेस का इस्‍तेमाल करना न भूलें। इससे आपकी आंखें तेज रोशनी से बची रहेगी। और खाने में विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में लें यानि खाने में हमेशा हरे पत्‍ते वाली सब्‍िजयां, टमाटर, चिकन और दूध से बनी चीजों का भरपूर इस्तेमाल करें। और एक बात का अवश्य ध्यान रखें कि हमेशा रात को सोते समय पैरों के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करके सोएं। ये आंखो की रोशनी को बढ़ाने में सबसे ज्यादा असर करती है।

गुलाब जल

अपनी आंखो से चश्में को हटाने के लिए आप अपने घर पर ही घरेलू नुस्खें भी अजमा सकते है। जैसे एक चने के दाने के बराबर फिटकरी को सेंक लें और उसमें सौ ग्राम गुलाब जल डालें और रोज रात को सोते समय उस गुलाब जल को अपनी आंखों में अवश्य डालकर सोएं। ऐसा करने से आपकी आंखो में ज्यादा खुलापन रहेगा और आंखों की जलन कम होने के साथ आंखों में जमा सभी कचरा भी बाहर निकल जाएगा।

आंवले के पानी से आंखों को धोएं

अपनी आंखों को बचाने के लिए और रोशनी बढाने के लिए आप आंवले के पानी से आंखों को धोकर उनमें गुलाब जल डालकर आराम करें। इसके अलावा बादाम की गिरी, बड़ी सौंफ और मिश्री तीनों को बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें और रात को सोते समय रोज एक गिलास दुध में मिलाकर पीएं। ये आंखो के लिए काफी असरकारक है, और आंखो की रोशनी को बढाने में काफी मदद करती है।

गाय का घी है अमृत

गाय का घी काफी गुणो और पोषक तत्वों से भरा हुआ है। ये आंखो के लिए अमृत के बराबर काम करता है। अगर आप भी अपनी आंखों से चश्मा हटाना चाहते है और आंखो की रोशनी को तेज करना चाहते है तो इसके लिए रोज रात को सोते समय अपनी कनपटी पर हल्के हाथों से गाय के घी को लगाकर मालिश करें। ये आंखो को जबदस्त आराम देती है और आंखों की सफेदी को भी बढाती है।

दुध में रूई भिगोकर रखें आंखो पर

अगर आपकी आंख पर चोट या कोई कचरा आंख में चला जाता है तो ऐसे में अपनी आंख को मसलें नहीं, ऐसा करने से आंख लाल हो जाएगी और आंखो के आगे धुंधलापन छा जाएगा जो कि आंख के लिए खराब है। इससे बचने के लिए अगर आप घर पर है तो दूध गर्म करके उसमें रूई को भिगोकर उसे ठंडा करके अपनी आंखों पर रख लें और अगर आप कही बाहर है तो ठंडें पानी से आंखों पर रूक-रूककर छिडकाव करें। इससे आंखो को ठंडक और आराम मिलेगा।

श्यामा तुलसी का रस है उपयोगी

श्यामा तुलसी के बारें में आपने सुना तो होगा ही या यह कही भी किसी भी घर में आसानी से मिल सकती है। इसे बीज और पत्तों को लेकर आप उसका रस निकाल लिजिए और फिर उस रस की कुछ बूंदे अपनी आंखों में डालें। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि श्यामा तुलसी के रस का उपयोग करने से रतौंधी जैसी बीमारी से छुटकारा मिलता है।

खीरा और पत्ता गोभी का इस्तेमाल

अगर आप खाने में खीरा और पत्ता गोभी का इस्तेमाल नही करते है तो आज से ही इनका इस्तेमाल करना शुरू कर दिजिए। क्योकि रोजाना खाने के साथ 50 से 100 ग्राम पत्‍तागोभी के बारीक पत्तों में सेंधा नमक, काली मिर्च मिलाकर खाने से आंखो की रोशनी तेज होती है और इसी तरह आप खीरें को भी इस्तेमाल कर सकते है। यह आंखों को काफी आराम और जलन से बचाएं रखता है।

 

Loading...

Leave a Reply