हमेशा लड़की को ही को धर्म परिवर्तन करना पड़ता है कंही ये सच में लव जिहाद तो नहीं

0

माना जाता है कि प्यार अँधा होता है, ना ही प्यार करने वालो को धर्म दिखाई देता है और ना ही कोई जात प्यार बस हो जाता है l जब एक शख्स प्यार करते समय इतना नहीं सोचता तो शादी के बाद क्या हो जाता है ? क्यों शादी के बाद उसी शख्स जिससे आप दिलो-जान से मोहब्बत करते है क्यों उसे धर्म बदलने के लिए मजबूर किया जाता है ? क्या आपका प्यार इतना कमजोर है कि आप अपने साथी को इतना मजबूर कर दे कि वो अपने नाम से लेकर पहचान तक बदल दें l अगर आपका प्यार सच्चा है तो आपको धर्म बदलने की कोई जरुरत नहीं है l किसने कहा कि दो धर्मों के लोग साथ नहीं रह सकते और भला जब प्यार सच्चा हो तो उसे धर्म के सामने घुटने टेकने की क्या जरूरत है ? सभी हिन्दू बहनों को एक सलाह अगर जाने-अनजाने आपको किसी मुस्लिम से प्यार हो भी गया हो तो इस बात का जरुर ध्यान रखें कि ये प्यार सच्चा हो l कहीं आप जिस शख्स को दिल दे चुकी है वो हिन्दू विरोधी तो नहीं l अगर वो आपसे प्यार करता है तो आपके धर्म से क्यों नहीं l जाति-वर्ण के आधार पर आप हिन्दू नहीं बन सकते, लेकिन फ़िर सामने वाली लड़की या लड़के को मुस्लिम बनाने की जिद क्यों करते हैं ? क्या दोनो एक ही घर में अपने-अपने धर्म का पालन नहीं कर सकते? मुस्लिम बनना क्यों जरूरी है?

आमिर खान-किरण राव

आमिर की खान की दूसरी पत्नी है किरण राव। आमिर की सिनेमा के प्रति दीवानगी के चलते वे किरण राव के इतने करीब आए। दोनों की यह करीबी पहले दोस्ती में बदली और फिर प्यार हो गया। आमिर खान ने ज़ल्द ही किरण राव से शादी कर उन्हें अपनी बीवी बना लिया। हालांकि, उनकी पहली शादी रीना दत्ता से हुई थी। यह भी आमिर का प्रेम विवाह ही था। रीना, आमिर के पड़ोस में ही रहा करती थीं। दोनों के बीच प्यार हुआ और शादी करने का फैसला कर लिया, लेकिन अलग-अलग धर्म के होने के कारण रीना के परिवार वाले राजी नहीं हुए। जब लाख कोशिशों के बावजूद दोनों को शादी के लिए हरी झंडी नहीं मिल सकी तो उन्होंने घर से भागने का फैसला कर लिया। 18 अप्रैल 1986 को उन्होंने घर से भागकर शादी रचा ली। 16 साल तक दोनों एक साथ जीवन बिताते रहे और फिर अलग-अलग होने का फैसला कर लिया। 2002 में आमिर ने रीना को तलाक दिया और दिसंबर 2005 में किरण राव से शादी कर ली। गौरतलब है कि रीना और आमिर के दो बच्चे (जुनैद और इरा) हैं, जो अब रीना के साथ ही रहते हैं।

सैफ अली खान और करीना कपूर

16 अक्टूबर को छोटे नवाब सैफ अली खान और करीना कपूर खान की शादी हुई l सैफ अली खान ने दो शादियां की और उनकी दोनों ही पत्नियां हिंदू रहीं। बॉलीवुड हमेशा सांप्रदायिक सौहार्द के लिए जाना जाता है। यहां जाति-धर्म से बढ़कर आपसी प्रेम होता है और इस प्रेम के आगे एक्टर-एक्ट्रेस सब कुछ भुला देते हैं। सैफ अली खान की पहली पत्नी रहीं अमृता सिंह भी हिंदू धर्म की हैं और दूसरी पत्नी यानी करीना कपूर भी हिंदू हैं। सैफ़ अली खान को अमृता सिंह से इतना ही प्यार था तो सैफ़, पंजाबी क्यों नहीं बन गया? अब इस उम्र में अमृता सिंह को बच्चों सहित बेसहारा छोड़कर करीना कपूर से इश्क की पींगें बढ़ा रहा है, और उसे भी इस्लाम अपनाने पर मजबूर करेगा, लेकिन खुद पंजाबी नहीं बनेगा (यही है असली मानसिकता…)।

नवाब पटौदी और शर्मिला टैगोर

छोटे नवाब के पापा नवाब पटौदी को भी मोहब्बत हुई तो इस हिन्दू अदाकारा से और पहली नज़र में ही वो शर्मीला टैगोर के दीवाने हो गए l अब प्यार पर किसका जोर चलता है देखते ही देखते शर्मीला को भी उनसे प्यार हो गया और दोनों ने निकाह कर लिया और शर्मीला से आयेशा सुल्तानाl अगर प्यार इतना ही सच्चा था तो फ़िर नवाब पटौदी, रविन्द्रनाथ टैगोर के परिवार से रिश्ता रखने वाली शर्मिला से शादी करने के लिये इस्लाम छोड़कर, बंगाली क्यों नहीं बन गये?

अरबाज़ खान और मलाइका अरोरा

अरबाज़ बॉलीवुड की जानी-मानी फैमिली खान फैमिली से है तो वहीँ मलाइका बॉलीवुड की चहेती एक्ट्रेस है दोनों शादी के बंधन में भी बंध गए और आज ऐसी नौबत आ गई है कि दोनों ने अलग होने की भी तैयारी कर ली हैं l आपको बता दे अरबाज़-मलाइका के दो बच्चे हैं l

जेमिमा मार्सेल और इमरान खान

ब्रिटेन के अरबपति सर जेम्स गोल्डस्मिथ की पुत्री जेमिमा ने 21 वर्ष की आयु में पाकिस्तानी क्रिकेटर 42 वर्षीय इमरान खान के प्रेमजाल में फ़ँसी उससे 1995 में शादी की इस्लाम अपनाया जेमिमा से हाइका खान बन गई l इमरान की ख़ुशी के लिए उर्दू सीखी पाकिस्तान गई l वहाँ की तहज़ीब के अनुसार ढलने की कोशिश की l जेमिमा-इमरान के दो बच्चे हुए उनके नाम भी मुस्लिम रखें गए सुलेमान और कासिम l इन सबके के बावजूद क्या हुआ ? तलाक-तलाक-तलाक।
अब अपने दो बच्चों के साथ जेमिमा ब्रिटेन में ही हैं। फ़िर वही सवाल – क्या इमरान खान कम पढ़े-लिखे थे? या आधुनिक नहीं थे? जब जेमिमा ने इतना “एडजस्ट” करने की कोशिश की तो क्या इमरान खान थोड़ा “एडजस्ट” नहीं कर सकते थे?(लेकिन “एडजस्ट” करने के लिए संस्कारों की भी आवश्यकता होती है या फिर सच्चा प्यार ख़ुद-बखुद सब सीखा देता है l अब कमी किसमें थी ये आप खुद ही सोचिए l

शाहरुख खान और गौरी छिब्बर

शाहरुख खान का गौरी पर दिल आ गया l नब्बे के दशक की किसी लव स्टोरी की तरह गौरी का पूरा परिवार शाहरुख से उसकी शादी के खिलाफ था, लेकिन शाहरुख यानि किंग खान ने किसी की परवाह नहीं की और गौरी से उनके परिवार की मर्ज़ी के बिना ही शादी कर ली l शाहरुख खान ने गौरी के प्रेम में हिन्दू धर्म अपनाया? नहीं ना?

मोहसिन खान और रीना रॉय

रीना रॉय ने पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहसिन खान से शादी की। इस्लाम अपनाया लेकिन यह विवाह ज्यादा समय तक नहीं टिक सका, नतीजा उन्होंने मोहसिन खान से तलाक ले लिया। इसके बाद वे पुन: भारत लौटीं और फिल्मों में प्रयास किया लेकिन असफलता मिली।

इमरान खान-अवंतिका

बॉलीवुड एक्टर आमिर के भतीजे एक्टर इमरान को भी मोहब्बत हुई और वो भी एक हिन्दू अवंतिका से दोनों शादी के बंधन में भी बंध गए और दोनों को एक बेटी हुई जिसका नाम भी मुस्लिम रखा इमारा खान l

शकील और अमृता

मलाइका की बहन अमृता ने शकील से शादी की l आपको बता दे अमृता शकील की दूसरी वाइफ है उनकी पहली वाइफ भी हिन्दू थी l

Loading...

Leave a Reply