वीडियो : आज राज्यसभा में ऐसा क्या हुआ कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी हँसी रोक नहीं पाए देखें

0

राज्यसभा में तो वैसे हमेशा किसी गंभीर मुद्दे पर चर्चा की जाती है। आजकल तो 500 और 1000 की नोटबंदी पर विपक्ष के लोग सत्तारूढ़ पार्टी को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। हर रोज राज्यसभा में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला चल रहा है, जो रुकने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन कभी-कभी कुछ ऐसी बातें भी हो जाती हैं, जब वहाँ मौजूद लोग अपनी हँसी रोक नहीं पाते हैं। कुछ ऐसे नेता भी हैं, जो बीजेपी के ऊपर मजाकिया अंदाज में आरोप लगाने से भी बाज नहीं आते हैं। जिसे सुनकर पक्ष और विपक्ष के लोग हँस पड़ते हैं।

जान का खतरा था प्रधानमंत्री को

आपको बता दें कि नोटबंदी के लिए भावुक होकर प्रधानमंत्री ने ऐलान करते हुए जब कहा था कि देश की कुछ विरोधी ताकतें ऐसा नहीं चाहती हैं। ऐसा करने से उनकी जान को खतरा भी हो सकता है, कुछ लोग उन्हें मारने की कोशिश भी कर सकते हैं। इस बात से विपक्ष के लोगों ने उनका खूब मजाक उड़ाने की कोशिश की थी।

नरेश अग्रवाल के बोलते ही हँस पड़े प्रधानमंत्री:

ऐसा ही एक मामला आज राज्यसभा में घटित हुआ है। आपको बता दें, सबको हँसने का यह मौका दिया है, समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने। नरेश अग्रवाल के बोलते ही राज्यसभा में मौजूद सभी लोग हँसने लगते हैं। यहाँ तक कि वहाँ मौजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी अपनी हँसी नहीं रोक पाते हैं। वहाँ पर उनके साथ वित्त मंत्री अरुण जेटली भी मौजूद थे, वो भी जोर से हँसने लगे।

दरअसल नरेश यादव ने राज्यसभा में नोटबंदी को लेकर कहा कि, “कुछ लोग कहते हैं कि प्रधानमंत्री को वित्तमंत्री अरुण जेटली पर भी भरोसा नहीं था और उन्होंने नोटबंदी के बारे में उन्हें भी नहीं बताया था। अगर यह बात अरुण जेटली को पता होती, तो वो जरुर हमें बता देते, वह मुझे जानते हैं”। नरेश अग्रवाल की इतनी बात सुनाते ही राज्यसभा में मौजूद सभी लोग जोर से हँसने लगते हैं।

उत्तर प्रदेश में सुरक्षित हैं:

नरेश अग्रवाल ने यह भी कहा कि, “आप उत्तर प्रदेश में सुरक्षित है, आप चिंता मत कीजिये” इतना सुनने के बाद प्रधानमंत्री दुबारा जोर से हँस पड़े। उनके साथ बीजेपी के सभी नेता भी हँसने लगे।

आप भी राज्यसभा में नरेश अग्रवाल के मजाकिया भाषण को सुन सकते हैं, और खुद ही देख सकते हैं कि कैसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उनकी बात को सुनकर हँस पड़ते हैं।

Loading...

Leave a Reply