ट्रंप ने फिर बोला : पद संभालते ही अमेरिका से निकाले जायेंगे 30 लाख मुस्लिम

0

ट्रम्प ने जैसा कि पहले कहा था ठीक उसी तरह अपने इरादे साफ़ ज़ाहिर कर दिए हैं और अमेरिका में आ चुके प्रवासियों को वापिस भेजने का संकल्प कर दिया है । बता दें कि 20जनवरी 2017 को ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति का पद सम्भालेंगे

ani

हालाँकि ट्रम्प ने ये नहीं कहा कि प्रवासी मुस्लिम होंगे या कोई और लेकिन ये कोई भी आसानी से समझ सकता है । ग़ौरतलब है कि दुनिया भर की मीडिया ट्रम्प पर मुस्लिम विरोधी होने का इल्ज़ाम लगाती रहती है लेकिन अमेरिका के होने वाले राष्ट्रपति का कहना है कि वे मुस्लिमों के नहीं बल्कि कट्टरवादिता के विरोधी हैं

और अगर मुस्लिम कट्टरवाद का साथ देंगे, हिंसा के रास्ते पर चलेंगे तो बेशक मुझे मुस्लिम विरोधी समझ लिया जाए। मैं कट्टरवाद और हिंसा के रास्ते का हमेशा विरोध करूँगा।

उन्होंने आगे आने वाली प्रवासियों के बारे में कहा कि मैकसिको की सीमा पर कुछ इलाक़ों में दीवार ठीक रहेगी और कुछ में बाड़ से भी काम चलाया जा सकता है।

अगर उनकी भाव भंगिमा को ग़ौर से देखा जाए तो ऐसा लगता है वे कड़े फ़ैसले लेंगे चाहे वो किसी को पसंद आए या नहीं । बता दें कि वे पहले ही कह चुके हैं कि वे कोई सैलरी नहीं लेंगे और अपने देश के लिए मुफ़्त में काम करेंगे । कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है कि ट्रम्प के आने के बाद अमेरिका में बड़े बदलाव होने की सम्भावना बन रही है और कट्टरवादी इस्लाम फ़ॉलो करने वालों के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ।

ऐसे लोगों को अब सुधारना ही होगा क्यूँकि कोई भी देश अब आतंकवाद सहन करने के मूड में नहीं दिखता बस हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान ज़रूर इसका अपवाद है ।

Loading...

Leave a Reply