शुगर रोगियों के लिए रामबाण हैं ये 4 कार्य

0

अगर आप सुबह उठ कर ये चार कार्य अपनी दिनचर्या में शामिल कर लेंगे तो आपकी मधुमेह की बीमारी जितनी भी पुरानी क्यों ना हो, कुछ ही दिनों में सही हो जाएगी। ये कार्य दोनों प्रकार की शुगर में लाभदायक हैं। इन कार्यो को करेंगे तो निश्चित ही आपकी मधुमेह की बीमारी जड़ से ख़त्म हो सकती हैं। और आपकी जो दवाये अपना प्रभाव नहीं दिखा रही थी वो भी अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देंगी। आइये जाने इनको

आयल पुलिंग

सुबह उठकर सबसे पहले बिना ब्रश किये १० ml तेल (सरसो ,नारियल,तिल,मूंगफली) कोई भी मुंह में लेकर १५ मिनट तक इसको चबाते रहे ध्यान रहे इसको निगलना नहीं है इसके बाद इसको थूक दीजिये .

गिलोय की दातुन

इसके बाद आप गिलोय की दातुन कीजिये और इसको चबाने पर जो रस निकले उसको अंदर ही निगल लीजिए अगर किसी कारण आपको गिलोय का दातुन ना मिले तो आप बबूल या नीम की दातुन भी कर सकते है गिलोय और नीम अपने आप में शुगर के लिए एक रामबाण औषधि है

सुबह की सैर

सुबह उठकर पार्क वगैरह में घूमने जाइये जितनी गति से आसानी से दौड़ लगा सकते है दौड़ जरूर लगाइए थोड़ी देर कंकर पत्थर वाली जगह पर जरूर चले इस से एक्युपंचर होगा जो मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है

योगा

हर रोज १५ मिनट कम से कम योग जरूर करें इसमें भी विशेष ५ मिनट मंडूकासन जरूर करें और कपाल भाति ,अनुलोम विलोम जैसे प्राणायाम भी जरूर करें मंडूकासन से पेंक्रियाज इंसुलिन का स्त्राव करना शुरू कर देता है जिससे शरीर में फैली ग्लूकोस को शरीर के सेल्स ग्रहण कर लेते है और शरीर में शुगर का स्तर कंट्रोल रहता है इसके बाद आप जो भी अपनी नियमित किर्या करते है वो कीजिये जो दवा आपकी चलती हो उसे continue रखे

Loading...

Leave a Reply