सफेद दाग को दूर करने का अचूक प्रयोग किया हुआ नुस्खा

0

आज हम आपको बता रहें हैं सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज. और इस प्रयोग में विशेष बात ये है के अगर इस प्रयोग से आपको आराम आना होगा तो ये 15 दिन में अपना असर दिखा देगा. तो आइये जाने बेहद सरल ये रामबाण प्रयोग.

सबसे पहले हम आपसे एक बात कहना चाहेंगे के ये प्रयोग करते समय आपको नमक, मिर्ची, तला हुआ, मांस, मछली, शराब, धुम्रपान बिलकुल बंद करना होगा. अगर आप ये काम कर सको तो ही इस प्रयोग को शुरू करें. और इस प्रयोग को करते समय इसके साथ में आपको कोई अच्छा सा झंडू का या बैद्यनाथ का ब्लड Purifier भी पीना होगा.

इस प्रयोग की सफलता के लिए बेहद उपयोगी है सुबह एक गिलास लौकी का जूस इसको आप 11 पत्ते तुलसी और 11 पत्ते पोदीने के डाल कर बनाये. और इसको नित्य 15 दिन तक पीना है

सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज

प्रयोग के लिए सामग्री

  • नारियल का तेल – 100 मि.ली.
  • नौशादर – 25 ग्राम.
  • बावची – 50 ग्राम

विधि

सबसे पहले बावची को कूट पीसकर महीन चूर्ण बना लीजिये. और नारियल तेल में नौशादर मिला लीजिये.

प्रयोग का तरीका

प्रथम सप्ताह

सबसे पहले रात को 2 ग्राम चूर्ण को पानी में भिगो कर रख दीजिये. बावची के ताज़ा चूर्ण को 2 ग्राम. हर रोज़ सुबह पानी के साथ नाश्ते के एक घंटे के बाद फांक लीजिये. इसके बाद में नौशादर वाले तेल को दाग वाली जगह पर लगायें. और इसी तेल वाली जगह पर रात को भिगोया हुआ बावची का चूर्ण लगा दें. यह काम प्रातः काल सुबह एक हफ्ते तक करें

दूसरा सप्ताह

दुसरे सप्ताह में यह चूर्ण दो दो ग्राम सुबह शाम खाएं अर्थात दिन में दो बार. तेल और चूर्ण सिर्फ प्रातः काल लगायें अर्थात दिन में एक बार

विशेष आपके लिए

यदि 15 दिन अर्थात दो सप्ताह के अन्दर सफ़ेद दागों पर बारीक बारीक बिंदियाँ ना बनें तो समझ लें की लाभ नहीं होगा. फिर यह प्रयोग बंद कर दें. और यदि बिंदियाँ बनती हैं तो वे धीरे धीरे बड़ी होती जाएँगी और सफ़ेद दाग हमेशा के लिए गायब हो जायेगा. यदि कोई हानि, उपद्रव या परेशानी ना हो तो इस प्रयोग को जारी रखें

नोट

होंठ, पलक, हथेली, तलवे और गुप्तांगों के लिए यह दवा प्रायः ठीक नहीं होती. प्रयोग की यह मात्रा दस वर्ष की आयु से अधिक उम्र वालों के लिए है. इस से कम उम्र वाले को आधा अर्थात एक ग्राम चूर्ण दें. और तेल और बावची का भीगा हुआ चूर्ण सफ़ेद दाग पर ही लगाना है, आसपास की त्वचा पर नहीं

सावधानी

यह प्रयोग सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दिया गया है. पाठक इसको प्रयोग करते समय अपने विवेक से निर्णय करें. अगर कोई साइड effect दिखे या सफ़ेद दाग की जगह और कहीं लग जाए तो तुरंत इस तेल को साफ़ कर के बर्फ घिसे और डॉक्टर से संपर्क करें

 

Loading...

Leave a Reply