राजस्थान के एक स्कूल में राष्ट्रगान बन्द करवा कर जबरन हिन्दू बच्चो को कुरान पढाई गयी

0

राजस्थान के एक स्कूल ने राष्ट्रगान, गाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है, और इतना ही नहीं वहाँ हिंदू बच्चों को जबरन कुरान का पाठ भी पढाया गया। यह हादसा 12 अगस्त का है, जब ‘जन गण मन’ को इस्लाम विरोधी बताकर स्कूल पर बंद करने का आरोप लगा है। मिली जानकारी के मुताबिक, यह प्राइवेट स्कूल राजस्थान के बाडमेर जिले में है। इस स्कूल का नाम “मौलाना वलि मोहम्मद” है। इस स्कूल में पढ़ने वाले हिंदू स्टूडेंट्स पर कुरान पढ़ने के लिए दबाव भी डाला गया था।

पुलिस इस मामले की जांच में लग गई है। जिले के कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा ने भी अपनी टीम को स्कूल में पूछताछ के लिए भेजा है। इस टीम ने स्वतंत्रता दिवस की तैयारी कर रहे बच्चों से पूछताछ की है। इस टीम ने स्वतंत्रता दिवस की तैयारी कर रहे बच्चों से पूछताछ की है। रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी भी जा चुकी है। इस स्कूल में 250 बच्चे पढ़ते हैं जिसमें से 30 हिंदू परिवारों से हैं।

परन्तु जब स्कूल से पूछा गया तो उन्होने इन आरोपों को गलत बताया है। वहां के प्रिंसिपल मोहम्मद सिराज ने कहा- ‘मैंने जांच कर रही टीम को पिछली बार मनाए गए स्वतंत्रता दिवस की तस्वीरें दे दी हैं।’ स्कूल की टीचर जेबा ने बताया कि स्कूल में कुरान की क्लास सिर्फ मुस्लिम बच्चों के लिए चलती हैं और वह भी स्कूल खत्म होने के बाद।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद के एक प्राइवेट स्‍कूल ने स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर जन-गण-मन, वंदे-मातरम और सरस्‍वती-वंदना गाने पर बैन लगा दिया था। और उनका कहना था कि ऐसा उन्होंने कुछ मुस्‍ल‍िम अभिभावकों के विरोध की वजह से किया था। इस फैसले से नाराज स्‍कूल के प्रिंसिपल समेत आठ टीचर्स ने इस्‍तीफा भी दे दिया था।

यह दोनों घटनाएँ बहुत ही दुखदायक और चिंताजनक हैं। परन्तु सोचने वाली बात तो यह है, कि अगर आपको ‘जन-गण-मन’ ही स्वीकार नहीं है, तो आप कर क्या रहें हैं, हमारे देश में?

Loading...

Leave a Reply