आप नेता इमरान ने कहा हिंदुओं की लाशें जलाने से लकड़ी नुकसान होती है इसको जवाब दें हिन्दू भाई

0

हमारी मीडिया कितनी घिनोनी है ये तो अब पूरी दुनिया जान चुकी है  वर्ल्ड इकनोमिक फोरम ने भी भारतीय मीडिया को दुनिया की दूसरी सबसे नीच मीडिया का ख़िताब दिया है बस हमे तो यही समझ नहीं आता की, भारतीय मीडिया दूसरे नंबर पर कैसे रह गयी, इसे तो नीचता में पहले नंबर पर होना चाहिए था

आपको याद होगा कुछ ही दोनों पहले साक्षी महाराज ने एक बयान दिया था, उन्होंने कहा था की, “देश में जनसँख्या पर नियंत्रण होना चाहिए, अधिक जनसंख्या से देश को नुक्सान है, 4 बीवी 40 बच्चे नहीं चलेगा”

साक्षी महाराज ने मुस्लिमो का नाम तक नहीं लिया, मीडिया ने तुरंत ब्रेकिंग न्यूज़ चलाकर साक्षी महाराज को नफरत फैलाने वाला बता दिया और नेताओं ने बीजेपी को मुस्लिम विरोधी बता दिया

आज दिल्ली के मुस्लिम मंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता इमरान हुसैन ने एक बयान दिया और कहा की, हिन्दुओ के अंतिम संस्कार में खूब लकड़िया जलाई जा रही है, जिस से पेडों का नुक्सान तो हो ही रहा है, साथ ही साथ पर्यावरण भी प्रदूषित हो रहा है, हिन्दुओ की लाशो को गैस से जलाना चाहिए”

मीडिया को ये बयान कहीं से भी आपत्तिजनक नहीं लगा, बल्कि मीडिया तो इस बयान की सराहना तक करती दिखाई दी, और दिल्ली में प्रदुषण का मुद्दा भी उठाया, ये #$#$#@ मीडिया वाले बिजली होते हुए भी, 24 घंटे 365 दिन जनरेटर चलाते है, ताकि 1 पल को भी लाइट न कटे, डीजल पर डीजल फूंकते है, इनको प्रदुषण विल्कुल नजर नहीं आता

खैर, इमरान हुसैन के बयान पर किसी ने भी हंगामा नहीं किया, साथ ही साथ किसी ने भी आम आदमी पार्टी को हिन्दू विरोधी नहीं बताया हंगामा तो तब होता, टीवी डिबेट तो तब होता, जब साक्षी महाराज जैसा कोई नेता कह देता की, मुसलमानो की कब्रिस्तान और लाशों को जमीन में गाड़ने के कारण, करोडो एकड़ जमीन बर्बाद हो गया है, उसपर न सड़क बन सकती है और न ही स्कुल कॉलेज, जमीन की तो वैसे ही कमी है मुसलमान मरने के बाद भी 8*4 फ़ीट की जमीन पर अतिक्रमण कर रहे है, तब जाके हमारी मीडिया और बुद्धिजीवी इसपर डिबेट करते

हिन्दुओ पर निशाना लगाए जाओ तो होता है सेकुलरिज्म, हिन्दू कुछ बोले तो तुरंत हो जाता है वो कम्युनल और साम्पद्रायिक, गजब का सेकुलरिज्म चल रहा है भारत में

Loading...

Leave a Reply