मुस्लिम बाप की हवस के शिकार से बेटी हुई गर्भवती, मौलवियों ने दोनों को पति-पत्नी घोषित कर दिया

0

एक बार फिर से कट्टरपंथियों का घटिया रूप सबके सामने आ गया है जिसने इंसानियत और रिश्तों को शर्मसार कर दिया है। बता दें कि -बेटी के बेहद पवित्र रिश्‍ते को तार तार करने की यह घटना UP के मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट की है ।

यहां पहले तो कलयुगी मुस्लिम पिता ने अपनी मासूम सी नाबालिग बेटी से लगातार काफ़ी महीनों तक रेप किया । पर जब आसपास के लोगों को पता चला और मामला पंचायत पहुंचा तो शरिया वालों ने पिता को ही लडक़ी का पति बना दिया ।

मीडिया में आ रही जानकारी के अनुसार, यहां रहने वाले एक मुस्लिम व्यक्ति की पत्नी की लगभग तीन साल पहले मौत हो गई थी । पत्‍नी की मौत के बाद उसके दो छोटे बच्चे तो खुशहाल नगर स्थित अपने नाना के घर रहने लगे थे, जबकि बड़ी लडक़ी पिता के साथ ही रहती थी और उसकी जवानी पर लट्टू होकर पिता ने उसके साथ शारीरिक सम्बंध बनाने शुरू कर दिए।

मुहल्ले वालों के मुताबिक कुछ समय से इस लडक़ी ने अचानक घर से बाहर निकलना बंद कर दिया था क्यूँकि पिता ने उसको बंद करके रखा था और बाहर निकलने से मना किया था। एक दिन पिता के किसी काम से बाहर जाने पर जब वह घर से बाहर निकली तो लोगों ने देखा की वह गर्भवती है ।

शरीयत के मुताबिक सुनाया ये नीचता भरा फैसला

इस मामले में आरोपी पर ना तो कोई केस चला, ना उसको जेल मिली क्यूँकि उसको बचाने वाले कट्टर मुल्ले मौलवियों ने ऐसा फ़ैसला सुनाया कि अब मासूम को सारी ज़िंदगी उस हैवान पिता से अपनी इज़्ज़त और जिस्म नुचवाना पड़ेगा । यानी शरीयत के मुताबिक़ किसी जवान लड़की को नोचो और उसके जिस्म को सारी ज़िंदगी भोगने का अधिकार पा जाओ यही नहीं जब दिल करे तीन बार तलाक़ तलाक़ तलाक़ बोलकर उसको छोड़ दो और फिर किसी दूसरी को पकड़ लो।

पंचायत ने माना कि पिता और बेटी के संबंध अब पति-पत्नी की तरह हो गए हैं. ऐसे में शरीयत के मुताबिक शारीरिक संबंध बनाने वाला पिता अब पति माना जाएगा. पंचायत ने आरोपी और उसकी बेटी से कहा कि अब उनके बीच नया रिश्ता बन गया है, इसलिए वे मुहल्ले में नहीं रह सकते ।

इंही कट्टरपंथियों को मोहम्मद शमी की पत्नी की Facebook फ़ोटो से एतराज़ है लेकिन अंदर ही अंदर महिलाओं की इज़्ज़त तार तार करने के इनके पास ख़ूब फ़ोर्मूले हैं । थू है ऐसे घटिया सोच पर ।

Loading...

Leave a Reply