मीडिया ने IPS के फर्जी आंसू दिखाए, इस महिला की बातों को क्यों दबा दिया

0

मीडिया और अफसरशाही का घिनोना चेहरा फिर एक बार सामने आया है मीडिया ने बीजेपी नेता को गुंडा बताने में जी जान लगा दिया, पर सच तो आखिरकार सामने आता ही है हुआ ये था की पिछले दिनों गोरखपुर में ग्रामीण महिलाएं दारू के विरोध में प्रदर्शन कर रही थी दारू लॉबी ने पुलिस बुलाई, और आईपीएस चारु निगम ने ग्रामीण महिलाओं पर बिना प्रशासनिक अधिकारी की अनुमति के लाठीचार्ज करवा दिया

आईपीएस ने गैरकानूनी काम किया, बिना डीएम, SDM की इज़ाज़त लाठीचार्ज गैरकानूनी है पर मैडम ने आईपीएस की अकड़ दिखाते हुए महिलाओं पर लाठीचार्ज करवा दिया, फिर बीजेपी नेता आये तो वो आईपीएस से भीड़ गए, फिर मौके पर मैडम से भी बड़े अधिकारी यानि इलाके के SDM पहुँच गए

बीजेपी नेता ने SDM के सामने मैडम की पोल पट्टी खोलनी शुरू की तो मैडम ने महिला कार्ड खेलते हुए फर्जी आंसू बहा दिया, फिर क्या था मैडम बिलकुल पाक साफ़ हो गयी और मीडिया ने बीजेपी विधायक को गुंडा बता दिया

पर अब जरा इस महिला की बात भी सुन लीजिये, पहले आप महिला की बात सुनिए

मीडिया ने आईपीएस के आंसू तो दिखा दिए पर मीडिया ने इस पीड़ित महिला की बात को देश के सामने पेश नहीं किया
चारु निगम ने गुंडागर्दी करते हुए पहले तो लाठीचार्ज करवाया, और उसके बाद इस गर्भवती महिला से चिढ़ते हुए इसके पेट पर लात मार दिया

महिलाएं शराब का विरोध कर रही थी, और चारु निगम और उनकी टीम शराब लॉबी का समर्थन गर्भवती महिला के पेट पर लात तो सिर्फ शैतान मार सकता है, और चारु निगम ने ये कार्य किया, पर मीडिया ने मैडम के आंसू दिखाए, इस महिला पर जो अत्याचार हुआ उसको मीडिया ने दबा दिया ताकि बीजेपी विधायक को गुंडा बताकर योगी सरकार को बदनाम किया जा सके

Loading...

Leave a Reply