जिन्ना और नेहरू दोस्त थे, जिन्नाह खाता था “सुअर” तो नेहरू खाता था “गौमांस” इन्ही दोनों की वजह से भारत बंटा

0

खबर से पहले आपको दोनों जिन्नाह-नेहरू के बारे में 2 चीजे जाननी होंगी जिन्नाह और नेहरू दोनों ही हिन्दू पूर्वजो की औलाद थे, जिन्नाह गुजराती हिन्दू गोकुलजी का पोता था, वहीँ नेहरू गयासुद्दीन गाजी का वंसज था, गयासुद्दीन स्वयं हिन्दुओ का ही औलाद था, अरब और तुर्को द्वारा तलवार के दम पर इस्लाम अपना लिया था
दोनों के ही पूर्वजो ने इस्लाम अपना लिया था, जिन्नाह और नेहरू भी इस्लाम अपना चुके थे, हां जिन्नाह ने अपना मुस्लिम नाम भी रख लिया था परंतु नेहरू ने मुस्लिम नाम नहीं रखा बल्कि हिन्दू नाम ही इस्तेमाल किया

* जिन्नाह और नेहरू दोनों ही अपने भारत को तोड़ इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहते थे, जिन्नाह मुस्लिमो का राष्ट्रपिता बनना चाहता था, मुस्लिमो पर राज करना चाहता था, वहीँ नेहरू मुस्लिम होकर हिन्दुओ पर राज करना चाहता था, हिन्दुओ को गुलाम बनाये रखना चाहता था

जिन्नाह और नेहरू के बीच जय वीरू की तरह दोस्ती थी, दोनों एक दूसरे की आलोचना कभी नहीं करते थे और दोनों ही अंग्रेजो की पार्टियों में एक साथ जाया करते थे

जिन्नाह ठरकी थोड़ा कम था पर शराबी अधिक था, वहीँ नेहरू ठरकी अधिक था और शराब थोड़ा कम पिया करता था
दोनों ही अंग्रेजी कल्चर के दीवाने थे, दोनों को रेड वाइन पसंद थी, दोनों को कुत्ते पसंद थे, दोनों में काफी समानता थी

खैर आज हम बात कर रहे है मुम्बई के ताज होटल में 1945 को एक पार्टी हुई थी पार्टी लार्ड मौन्टबैटन ने दी थी
पार्टी में दोनों नेहरू और जिन्नाह मौजूद थे, वो दोनों ही अंग्रेजो के बड़े चापलूस और पिछलगू थे

नेहरू और जिन्नाह पर इस पार्टी में मौन्टबैटन ने कहा था की, “जिन्नाह और नेहरू दोनों ही परम मित्र है परंतु दोनों ही बड़े अजीब है, नेहरू हिन्दू होकर गाय का मांस खाता है, वहीँ जिन्नाह मुस्लिम होकर सुवर का मांस खाता है”

वैसे आपको बता दें मौन्टबैटन को नहीं पता था पर जिन्नाह तो मुस्लिम बन ही चूका था परंतु नेहरू भी मुस्लिम ही था, हां हिन्दू नाम रखा होने के कारण आज भी लोग कंफ्यूज रहते है  आपको बता दें की नेहरू के लिए दिल्ली के होटलो से गाय का मांस प्रधानमंत्री आवास पर आता था वहीँ जिन्नाह तो पाकिस्तान बनने के बाद भी सुवर का मांस खाता रहा, उसे सुवर का मांस बहुत पसंद था
जैसा की हमने पहले बताया की जिन्नाह थोड़ा शर्मीला था औरतो के मामले में, उसलिए वो ठरकी कम था, वो शराबी अधिक था और सुवर का मांस अधिक खाता था वहीँ नेहरू दारूबाजी कम किया करता था वो ठरकी अधिक था और गाय का मांस खाया करता था

Loading...

Leave a Reply