इसराईल द्वारा की गयी दुनिया की सबसे ख़तरनाक सर्जिकल स्ट्राइक का विडीओ देख आपके रोंगटे खड़े हो जाएँगे

1

हाल ही में भारत ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ सर्जिकल स्ट्राइक किया हैं। उसके बाद से दुनिया भर में सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बातें हो रही हैं । आज हम आपको इज़रायल की एक ऐसी सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बताते हैं जिसके बारे में सुनकर और जिसका विडीओ देखकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएँगे। इस सर्जिकल स्ट्राइक का नाम था ऑपरेशन एंतेब्बे। 27 जून 1976 को इजरायल के तेल-अवीव से उड़ा एक यात्री विमान जिसे जाना तो पेरिस था पर ये पहुँच गया युगांडा की राजधानी एंतेब्बे । तब फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने उस प्लेन को हाइजैक कर लिया था।

यात्रियों की रिहाई के बदले इजरायल, केन्या और वेस्ट जर्मनी में कैद 54 फिलिस्तीनी आतंकवादियों को छोड़ने की मांग रखी थी । उन आतंकवादियों को यूगांडा के तानाशाह इदी अमिन का संरक्षण प्राप्त था । फिर इज़राइली सेना ने अपने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देने के लिए एक प्लान बनाया। तेल-अवीव से एंतेब्बे की दूरी 4000 किलोमीटर थी, इज़राइली सेना ने अपने कुछ ख़ास कमांडो को एंतेब्बे एअरपोर्ट पर भेजा। कमांडो विमान से उतरते ही एक लिमोजिन और दो सुरक्षा वाहनों में बैठकर एअरपोर्ट के टर्मिनल एक की ओर बढे.ये सब उनकी चाल थी ताकि युगांडा को चकमा दे सके । देखें ये शानदार विडीओ जो उसी सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में है ।

युगांडा ने सैनिको ने समझा की ये काफिला राष्ट्रपति इदी अमिन का है पर जब तक वो सैनिक सच समझ पाते तब तक बहादुर इजरायली सैनिक सैलेंसर लगी बन्दूको से उनका काम तमाम कर दिया था । इसके बाद ही एंतेब्बे एअरपोर्ट पर 200 इज़रायली सैनिक और आ गए। इस स्ट्राइक में कुछ बंधक भी मारे और अंत में 4 जुलाई 1976 को ये बंधक संकट खत्म हुआ ।

विजय ईसराईल की हुई थी ।

Loading...

1 COMMENT

Leave a Reply