अपने हाथ की सात रेखाएं जिन्हें देख कोई खुद भी जान सकता है अपना भविष्य

0

ज्योतिष शास्त्र में हस्त रेखा hast rekha का पाना महत्व है, हाथ की रेखा के माध्यम से व्यक्ति अपने भुत व भविष्य के बारे में जान सकता है, तथा इस ज्ञान की सहायता से मनुष्य भविष्य में अपने साथ होने वाली घटना को पूर्व ही जान काफी हद तक टाल व रोक सकता है.

साधारण मनुष्य को ज्योतिष का ज्ञान न हो पाने के कारण वह ज्योतिष की सहायता लेता है, ऐसे में कुछ ज्योतिष ऐसे होते है जो लोगो को भ्रमित कर उन्हें ठग लेते है
.
परन्तु क्या आप जानते है की हाथो के कुछ ऐसे लकीरे hast rekha होते जिन्हे आसनी समझा सकता है तथा इनकी थोड़ी सी समझ रख अपना भविष्य खुद जान सकता है इसके लिए उसे किसी ज्योतिष के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती.

आइये आज हैं आपको हाथ में छुपी उन सात रेखाओं(hast rekha) के बारे में बताते है जिनसे हस्त रेखा ज्योतिष को समझा जा सकता है.

जीवन रेखा :-

हाथ की हथेली में सभी रेखाओं में से जीवन रेखा(hast rekha) का महत्वपूर्ण योग्दान है क्योकि इसमें आपकी आयु के साथ ही आपके जीवन में होने वाली महत्वपूर्ण घटनाओं से जुड़े कई रहस्य छुपे होते है. जीवन रेखा सदैव लम्बी तथा गहरी होनी चाहिए, जिसकी हथेली की जीवन रेखा गहरी और लम्बी होती है

वह व्यक्ति दीर्घ आयु का होता है तथा वह सदैव स्वस्थ रहता है. इसी के ठीक विपरीत जिस व्यक्ति की जीवन रेखा बहुत छोटी उसकी आयु भी अल्प होती है तथा वह जीवन भर अनेक बीमारियों से घिर रहता है

ह्रदय रेखा :-

ह्रदय रेखा में व्यक्ति के प्यार एव रिश्तों से जुड़े कई रहस्य छुपे होते है. यदि आप किसी व्यक्ति के संबंध में यह पता करना चाहते है की वह व्यक्ति भावुक है या नहीं तो उसकी हाथ की हृदय रेखा देख आप यह बात ज्ञात कर सकते हो.

हाथो में छोटी तथा सीधी ह्रदय रेखा होने से यह बात गया होती है की व्यक्ति अपने शब्दों से काम से ज्याद प्यार करता है. यदि किसी व्यक्ति की ह्रदय रेखा मोदी हुई हो तो उसकी इच्छाएं प्रबल होती है.

मस्तिक रेखा :-

मस्तिक रेखा किसी व्यक्ति के ज्ञान तथा उसके विवेक की जानकारी हमें बताता है इसी के साथ इससे हमें मनोज्ञान के विषय में भी पता चलता है. मस्तिक रेखा के छोटे होने का अर्थ यह होता है की आप अपने जीवन से जुड़े किसी भी फैसले को बड़ी ही आसानी से ले लेते हो

तथा यदि मस्तिक रेखा लम्बी होती है तो इसका अभिप्राय होता की आप किसी बात की गहराई से भली-भाति जान तब उस पर अपना फैसला लेते हो जो की एक विवेकशील व्यक्ति होने की भी निशानी है. तथा लम्बी व मुड़ी हुई मस्तिक रेखा आपके रचनात्मक होने को प्रदर्शित करती है

भाग्य रेखा :-

जैसा की नाम से पता चलता है की यह रेखा आपके भाग्य को प्रदर्शित करती है. इस रेखा पर आपका वश नहीं चल पाता. यदि मनुष्य के हाथो में भाग्य रेखा टूटी व हलकी हो तो यह बताता है की आपका भाग्य बुलंद नहीं आप को जिंदगी बाहर अनेको परेशानियों का समाना करना पड़ेगा.

यदि आपकी भाग्य रेखा अंगूठे से लगती हुई जीवन रेखा को छूती है तो इसका मतलब है आपको सदैव अपने परिवार और दोस्तों का सुख मिलेगा.

सूर्य रेखा :-

इस रेखा के संबंध में अधिकत्तर लोग नहीं जानते, यह रेखा आपकी हथेली में लंबवत होती है. इससे पता चलता ही की कोई व्यक्ति कितना रचनात्मक है. इसके साथ ही इस रेखा द्वारा व्यक्ति के आत्मविश्वास तथा योग्यता का भी आकलन किया जा सकता है . बहुत से लोगो में इस रेखा का आभाव पाया जाता है.

हथेली में छोटी छोटी व पतली रेखाएं :-

हमसे काफी लोग ऐसे होते है जिनके हाथो में बहुत से छोटी छोटी व पतली रेखाएं होती है. इस प्रकार के लोग काफी संवेदनशील होते है. तथा ये लोग समय आने पर सही व गलत का निर्णय नहीं ले पाते तथा दुविधा में घिरे रहते है.

हाथो में बहुत काम रेखाओं का होना :-

इस प्रकार के लोग बहुत मेहनती एवं लगन के पक्के होते है. ये लोग अपनी जिद्द को पूरी करके ही चेन की साँस लेते है तथा ये किसी के लिए भी नहीं बदलते. इस प्रकार के लोगो से बात करना थोड़ा मुश्किल होता है.

Loading...

Leave a Reply