देखिये राजधानी दिल्ली की एक जगह जंहा शादी के बाद बीवी को कोठे पर भेजना धंधा नहीं, सदियों से चला आ रहा रिवाज़ है

0

भारत एक ऐसा देश है जो की अपनी ‘संस्कृति’ के लिए जाना जाता है l जहां महिलाओं को आदर और सम्मान दिया जाता है l बेटियों और बहुओं की इज्ज़त का ख्याल रखा जाता है l जंहा बहुएं और बेटियाँ अपनी मर्यादा में रहती हैं क्योंकि उन्हें अपने परिवार की इज्ज़त का ख्याल रहता है l

भारत में बेटियों और बहुओं को घर की लक्ष्मी भी माना जाता है l खुशनसीब हैं वो लड़कियां जिन्हें अच्छा परिवार मिला है l हर किसी के नसीब में खुशियां नहीं होती l इस बात को हम जितना जल्दी समझ लें अच्छा होगा और अगर आपको भी मिलें हैं अच्छे मम्मी-पापा सास-ससुर तो इज्ज़त करिए उनकी ऐसा घर है किसी को नहीं मिलता l शुक्रिया करिए उस खुदा का जिसने आपको इतना सब अच्छा दिया l

दिल्ली के नफजगढ़ की लड़कियों को शादी से डर लगता है l शादी के हसीं सपने देखने वाली लड़कियां अब शादी के लिए मना करने लगी हैंl नफजगढ़ में शादी के बाद लड़कियों के साथ ऐसा कुछ हो रहा है, जिससे आपके भी रोंगटें खड़े हो जाएंगे l

दरअसल दिल्ली का एक समुदाय ऐसा भी है, जो शादी के बाद अपनी बहुओं को जिस्मफरोशी का धंधा करने के लिए भेजता है उन्हें मजबूर करता ये करने के लिए l इस समुदाय को ‘परना’ नाम से जाना जाता है l ख़बरों के मुताबिक प्रेमनगर बस्ती में रहने वाले परना समुदाय के लोग अपनी बहुओ से यहाँ जिस्मफरोशी कई सालो से करवाते आ रहे है l

यहां शादी के बाद जो भी लड़की गैर मर्द के साथ संबंध बनाने के लिए मना करती है उसे मारा-पीटा जाता है l उसे धमकाया जाता है l ‘परना’ समुदाय के लोगों का कहना है कि ये सब एक रीति-रिवाज है जो की हर बहु को करना पड़ता है l यंहा लड़कियों की शादी 12 से 15 साल की उम्र में कर दी जाती हैl

यहां बहुएं सुबह उठती हैं घर का काम करती हैं खाना बनाती है l उसके बाद जाती हैं दिनभर मर्दों को खुश करती हैं l घर आकर रात का खाना बनाती है फिर रात में जाती हैं अपने वेश्‍यावृत्ति के धंदे पर l ये काम करना उनकी मज़बूरी बन चुका है,क्योंकि अगर वो ऐसा नहीं करेंगी तो उन्हें जान से मारने की धमकी भी जाती है l

यहां बहुएं सुबह उठती हैं घर का काम करती हैं खाना बनाती है l उसके बाद जाती हैं दिनभर मर्दों को खुश करती हैं l घर आकर रात का खाना बनाती है फिर रात में जाती हैं अपने वेश्‍यावृत्ति के धंदे पर l ये काम करना उनकी मज़बूरी बन चुका है,क्योंकि अगर वो ऐसा नहीं करेंगी तो उन्हें जान से मारने की धमकी भी जाती है l

यहां हर परिवार पुलिस प्रशासन से सिर्फ एक ही गुहार लगाए हुए है की लड़कियों की सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाए जाए। लेकिन प्रशासन ने अब तक ऐसा कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया l

Loading...

Leave a Reply