देखिये सेकुलरिज्म : सिंचाई विभाग की जमीन को वोटबैंक के लिए अखिलेश ने बनाया कब्रिस्तान

0

ये जो ऊपर आप ग्राफ़िक्स देख रहे है, ये असल में एक बैनर है, जिसे हमने नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के मुस्लिम मंत्री कमाल अख्तर ने बनवाया है, और यूपी में जगह जगह लगवाया है आप स्वयं देख सकते है की, इस बैनर में क्या लिखवाया गया है अखिलेश यादव ने सिंचाई विभाग की जमीन को, मुस्लिम वोटबैंक बनाने के लिए इस्लामिक कब्रिस्तान बना दिया, ये जमीन भले ही सिंचाई विभाग की थी, पर आप इस सरकारी जमीन को तुष्टिकरण की राजनीती के तहत कब्रिस्तान में बदल दिया गया

क्या कभी आपने देखा या सूना की यूपी की सरकार ने हिन्दुओ के लिए कभी कोई जमीन दिया हो, मंदिर या आश्रम के लिए जमीन दी हो हमने आपको पहले भी बताया था की कैसे 2012 से लेकर 2017 तक अखिलेश यादव के राज में उत्तर प्रदेश में मंदिर टूटते गए, मंदिरो से लाउड स्पीकर उतरवाया गया और कैसे मस्जिदे और मदरसे सरकारी पैसे से बनते गए, गाज़ियाबाद का 1300 करोड़ रुपए का हज हाउस तो आपकी जानकारी में होगा ही

और मस्जिदों मजारो, और हज हाउस के अलावा सरकारी जमीन भी कैसे तुष्टिकरण की राजनीती में झोंक दिया गया ये भी आज आपने देख लिया उत्तर प्रदेश वालो अब कितने कैराना और बनवाना है सिंचाई विभाग की जमीन तुष्टिकरण में चली गयी, वो कब्रिस्तान हो गयी, कहीं पूरा का पूरा उत्तर प्रदेश ही न मुगलिस्तान हो जाये

Loading...

Leave a Reply