कांग्रेस ‘युवराज’ को धान और गेहूं में अंतर नहीं पता, किसानों की समस्याएं क्या दूर करेंगे ?

0

यूपी में कांग्रेस के सामने कई चुनौतियां हैं। पार्टी की राह आसान करने के लिए उपाध्यक्ष राहुल गांधी मैदान में उतरे हैं। वो किसानों के जरिए सत्ता वापसी का रूट तैयार कर रहे हैं। देवरिया से दिल्ली तक किसानों के साथ खाट सभाएं कर रहे हैं। शुरूआत देवरिया से हुई। समाजवादी पार्टी ने इस खाट सभा को फ्लॉप करार दिया है। प्रदेश सरकार में मंत्री और सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा।

राजेंद्र चौधरी ने कहा कि प्रदेश की जनता राहुल गांधी की नौटंकी को समझ गई है। वो दलितों के घर खाना खाते हैं। रात को खाट पर सो जाते हैं और अब किसान महापदयात्रा। राजेंद्र चौधरी ने कहा कि राहुल गांधी खाट सभाओं के लिए जरिए तमाशा कर रहे हैं। चौधरी ने कहा कि किसानों के नाम पर हो रही पदयात्रा में किसान ही नहीं आ रहे हैं। खाट सभाओं में किसानों का टोटा है। चौधरी ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि राहुल की सभा में भीड़ को बुलाया जाता है। असली किसान नहीं आ रहे हैं तो नकली किसान सभाओं में भेजे जा रहे हैं।

इसके अलावा राजेंद्र चौधरी ने राहुल गांधी की समझ पर भी सवाल उठाए। उन्होने कहाकि राहुल गांधी को धान और गेंहू का अंतर नहीं पता है। वो ये नहीं बता सकते हैं कि खेत में उगी फसल कौन है और खरपतवार क्या है। ऐसे में वो किसानों के हितों के बारे में क्या बात करेंगे। वो केवल किसानों के नाम पर दिखावा कर रहे हैं। अगर कांग्रेस को किसानों की इतनी ही चिंता होती तो वो 27 साल तक सत्ता से बाहर क्यों होती।

बता दें कि देवरिया से शुरू हुई राहुल गांधी की खाट सभाओं में खासा हंगामा देखने को मिला था। सभा में आए लोग सभा खत्म होने के बाद खाट लेकर जाने लगे। कई लोगों के बीच तो खाट पर कब्जे के लिए हाथापाई भी देखने को मिली। इसी पर समाजवादी पार्टी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है। राजेंद्र चौधरी ने कहा कि यूपी में सत्ता से दूर रहने के कारण कांग्रेस बौखला गई है। वो बौखलाहट में बिना सिर पैर के काम कर रही है।

Loading...

Leave a Reply