चीन व् कांग्रेस हुए एक, चीन के बुलावे पर जायेगा कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल

0

इस वक्त मोदी सरकार चीन की भी दुश्मन है और कांग्रेस की भी दुश्मन है, मोदी सरकार को ना तो चीन देखना चाहता है और ना ही कांग्रेस देखना चाहती है, जिस प्रकार दुश्मन का दुश्मन दोस्त होता है उसी प्रकार से चीन ने भी कांग्रेस से दोस्ती करने की योजना बनायी है,

अब चीन भारत की कांग्रेस पार्टी से दोस्ती करके उसे बताएगा कि मोदी सरकार का विरोध कैसे करना है। इसी मकसद से चीन ने कांग्रेस को निमंत्रण भेजा है और कांग्रेस भी चीन जाने के लिए तैयार हो गयी है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) के निमंत्रण पर 15 जनवरी से एक सप्ताह के लिए चीन के दौरे पर जाएगा।

पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, कुमारी शैलजा, ज्योतिरादित्य सिंधिया, राजीव शंकरराव सातव और सुष्मिता देव सहित कई नेता इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगे।

पहले कांग्रेस पाकिस्तान से खुला मदद मांग चुकी है की भारत की सत्ता से नरेन्द्र मोदी को हटाने में मदद करो अब कांग्रेस चीन से मोदी को हटाने के लिए गुरुमंत्र लेगी पाकिस्तान हो, चीन हो या हो कांग्रेस, भारत के सारे दुश्मन नरेन्द्र मोदी से परेशान है

Loading...

Leave a Reply