मंत्र विज्ञान द्वारा बवासीर सही करने का अचूक घरेलु उपाय

0

प्राचीन काल में जब औषधियां नहीं थीं तब प्राचीन लोग बवासीर जैसे रोगों को मंत्र विज्ञानं के द्वारा सही करते थे आइये जानते हैं वो प्राचीन मंत्र जिससे बवासीर सही हो जाती है कुछ ही दिनों में

ॐ काका कता क्रोरी कर्ता… ॐ करता से होय….यरसना दश हंस प्रगटे…. खूनी बादी बवासीर न होय…. मंत्र जान के न बताये….. द्वादश ब्रह्महत्या का पाप होय… लाख जप करे तो उसके… वंश में न होय…. शब्द साँचा… पिण्ड काँचा… फुर्रो मंत्र ईश्वरोवाचा।

रात्रि के रखे हुए पानी को लेकर इस मंत्र को 21 बार शक्तिकृत करके गुदाप्रक्षालन करें तो दोनों प्रकार की बवासीर ठीक हो जाती है।

Loading...

Leave a Reply