यूपी में तो अब बीजेपी की ही सरकार बनेगी जानिए ऐसा क्या हो गया

0

यूपी के सत्‍तारुढ़ दल समाजवादी पार्टी को प्रदेश में बड़ा सियासी नुकसान होता दिखाई पड़ रहा है। शिया धर्मगुरु मौलाना कल्‍बे जव्‍वाद ने समाजवादी पार्टी की सरकार को गुंडागर्दी की पर्याय वाली सरकार की संज्ञा दी। मौलाना कल्‍बे जव्‍वाद का कहना है कि प्रदेश की सरकारों ने अब तक शिया समुदाय की अनदेखी की है। लेकिन, अब इसे बर्दास्‍त नहीं किया जाएगा। कल्‍बे जव्‍वाद ने दो टूक शब्‍दों में कह दिया है कि वो अगले साल यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में किसी भी सूरत में समाजवादी पार्टी का समर्थन नहीं करेंगे।

मौलाना कल्‍बे जव्‍वाद ने लखनऊ में बाकायदा प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर सपा सरकार पर निशाना साधा। इस प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन शहान-ए-अवध ट्रस्ट की ओर से वक्फ प्रॉपर्टीज की बरबादी को रोकने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत किया गया था। कल्‍बे जव्‍वाद के समर्थन में रॉयल फैमिली के लोग भी आ गए हैं। जो चाहते हैं कि वक्‍फ संपत्तियों का संरक्षण हो। इस मौके पर कल्‍बे जव्‍वाद ने बीएसपी नेता नसीमुद्दीन सिद्दकी पर हुए हमले की निंदा भी की।

मौलाना का कहना था कि दरअसल यूपी में लंबे समय से जो भी सरकारें रही हैं। उन्‍होंने शिया समुदाय की अनदेखी की है। लेकिन, अब हम इसे और नहीं बर्दास्‍त कर सकते हैं। अब सरकारों को जवाब मिलेगा। मौलाना का कहना है कि सरकार की गलत नीतियों के कारण ही वक्‍फ संपत्तियों का नुकसान हो रहा है। समाजवादी पार्टी की सरकार ने ही अजादारी रोड पर मोहर्रम के दौरान काले झंडे और मजलिसों के बैनर लगाने पर रोक लगाई है। उन्होंने कहा कि वक्फ की जमीनों पर जो सौंदर्यीकरण का काम हो रहा है। वो महज दिखावा है। जिला प्रशासन इसके जरिए अरबों की वक्‍फ की संपत्तियों को बरबाद करने पर तुला है।

मौलाना कल्‍बे जव्‍वाद का कहना है कि वो अगले साल होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव में कम से कम समाजवादी पार्टी का सपोर्ट नहीं करेंगे। विधानसभा चुनाव में मुलायम सिंह के समर्थन की कोई बात नहीं होगी। जाहिर है कल्‍बे जव्‍वाद के इस बयान से समाजवादी पार्टी को बड़ा नुकसान होगा। हालांकि कल्‍बे जव्‍वाद ने ये साफ नहीं किया है कि अगर वो सपा को समर्थन नहीं देंगे तो किस पार्टी को सपोर्ट करेंगे। लेकिन, इतना जरुर है कि यूपी में मुस्लिम वोटों के इस ध्रुवीकरण का सीधा फायदा बीजेपी को मिलेगा।

Loading...

Leave a Reply